मनोरंजन

‘मसान’ की पहली पसंद नहीं थे विक्की कौशल, ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ से है गहरा नाता

मसान… कुछ लोगों को यह शब्द सिर्फ एक फिल्म के लिए याद रहता है। इस शब्द को नीरज घायवान ने 7 साल पहले अपनी फिल्म के जरिए इतना आम बना दिया था। उनकी वजह से ही विक्की कौशल जैसे नए स्टार को इंडस्ट्री मिली और ऋचा चड्ढा और श्वेता त्रिपाठी जैसी हीरोइनें दमदार और नेचुरल एक्टिंग के लिए मशहूर हुईं। मसान भाग्यशाली था कि उसे नीरज घायवान जैसा प्रतिभाशाली निर्देशक मिला, जिसने हर किरदार और कहानी को एक फिल्म की तरह नहीं बल्कि एक सामान्य जीवन की तरह बनाया। इस फिल्म को देखने के बाद हर दर्शक के होठों पर एक ही वाक्य था। एक ही घाट पर चलो, गुब्बारे और कश्ती से प्यार करो।

‘मसान’ ने दिखाया और सिखाया कि जिंदगी कभी रुकती नहीं है। इस फिल्म की लघुकथाओं में जीवन, मृत्यु, सुख, दुख और उम्मीद सभी पिरोए गए थे। नीरज घायवान ने वह सब दिखाया जो एक सामान्य जीवन में होता है और मनुष्य जीवन की हवा में चलता है। निर्देशक ने प्रेम कहानी, जाति के हथकंडे के साथ-साथ समाज की कुंठाओं को सच करने के लिए प्रतिभा का इस्तेमाल किया।

मसान फिल्म के दिलचस्प किस्से

1. विक्की कौशल नहीं थे पहली पसंद

मसान 1

मसान फिल्म की कहानियां

राजकुमार राव फिल्म मसान के लिए पहली पसंद थे। तब मनोज बाजपेयी भी इस फिल्म से जुड़ने वाले थे लेकिन दोनों के साथ बात नहीं बनी। मसान के एपिसोड विक्की के साथ जुड़ते रहे और फिर सभी ने उनके द्वारा किए गए अद्भुत अभिनय को देखा।

2. यह फिल्म संजय मिश्रा के पिता को समर्पित है

मसान 2

नीरज घायवान द्वारा निर्देशित और वरुण ग्रोवर द्वारा लिखित, मसान संजय मिश्रा के पिता को समर्पित है।

3. कान्स में मसान का स्टैंडिंग ओवेशन

मसान 3

मसान फिल्म की कहानियां

मसान के साथ नीरज घायवान के निर्देशन में बनी पहली फिल्म को 68वें अंतर्राष्ट्रीय कान फिल्म समारोह में भी प्रदर्शित किया गया था। यहां इसे पांच मिनट का स्टैंडिंग ओवेशन दिया गया और इसने दो पुरस्कार भी जीते।

4. यहां रिलीज नहीं हो सका

मसान 4

मसान फिल्म की कहानियां

दुनिया भर में प्यार जीतने वाली विक्की कौशल, ऋचा चड्ढा और श्वेता त्रिपाठी की फिल्म ब्रिटिश कोलंबिया, कनाडा में रिलीज नहीं हो पाई।

5. गैंग ऑफ वासेपुर से मसान का कनेक्शन

नीरज घायवान ने मसान से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। इससे पहले वह अनुराग कश्यप के साथ ‘गैंग ऑफ वासेपुर’ के असिस्टेंट डायरेक्टर थे। उन्होंने साल 2012 में अनुराग के साथ इस फिल्म की कहानी पर चर्चा की थी और वह चाहते थे कि वह इसे प्रोड्यूस करें। यही वजह है कि अनुराग कश्यप के प्रोडक्शन हाउस फैंटम फिल्म का नाम इससे जुड़ा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: